All Standing Poses

खड़े आसन के प्रकार(Standing Yoga poses with Names in Hindi)

संतुलन सुधार और मुद्रा सुधार, अन्य आसन-विशिष्ट शारीरिक और चिकित्सीय लाभों के लिए स्थायी योग मुद्राएँ सबसे अच्छी मानी जाती हैं।उनमें से कुछ ऐसे आसन होते है जो आपके कूल्हे को लचीला और हैमस्ट्रिंग(जांघ की मांसपेशियों ) को मजबूत करने में फायदेमंद हैं। इसलिए ये आसन एथलीटों, नर्तकियों, बच्चों, वरिष्ठ नागरिकों और डेस्क जॉबर्स के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं। इन आसनों को नियमित रूप से करने से पूरे शरीर में रक्त संचार में सुधार होता है, विशेष रूप से सिर और पैरों में, यह आसन हृदय संबंधी बिमारियों, धावक के घुटने, सर्वाइकल, अस्थमा, घुटने में दर्द जैसी समस्याओं को कम करता है।

ardha chandrasana benefits

अर्धचंद्रासन

अर्धचंद्रासन करने की विधि, निर्देश, और लाभ – Ardha Chandrasana Benefits, Step & Instruction in hindi अर्धचंद्रासन के बारे में ...
Read More
Benefits of Trikonasana

त्रिकोणासन

त्रिकोणासन करने की विधि, निर्देश, और लाभ – Step, Instruction and Benefits of Trikonasana in hindi त्रिकोणासन के बारे में ...
Read More
Utthita Parsvakonasana Benefits

उत्थित पार्श्वकोणासन

उत्थित पार्श्वकोणासन करने की विधि, निर्देश, और लाभ - Utthita Parsvakonasana Benefits and Steps उत्थित पार्श्वकोणासन के बारे में – ...
Read More
utthita hasta padangusthasana

उत्थित हस्त पाद अंगुष्ठासन

उत्थित हस्त पाद अंगुष्ठासन करने की विधि, निर्देश, और लाभ – Step, Instruction and Benefits of Utthita Hasta Padangusthasana in ...
Read More
benefits of adho mukha svanasana

अधो मुख श्वानासन

अधो मुख श्वानासन करने की विधि, निर्देश, और लाभ – Step, Instruction and Benefits of Adho mukha Svanasana in hindi ...
Read More
benefits of padahastasana in hindi

पादहस्तासन

पादहस्तासन करने की विधि, निर्देश, और लाभ - Step, Instruction, and Benefits of Padahastasana(Uttanasana) in Hindi पादहस्तासन के बारे में ...
Read More

खड़े होकर किये जाने वाले योगा के लिए सुझाव

  1. यदि आपके हैमस्ट्रिंग में लचीलापन नहीं है तो आपको आगे झुकना और अपने पैर की उंगलियों एवं एड़िओं को छूने तकलीफ महसूस हो सकती है ,इसलिए एक पट्टा का उपयोग करें। यदि यह संभव नहीं है, तो जितना झुक सकते हैं उतना ही झुकें आप अपने सामने या अपने किनारों पर एक ब्लॉक भी रख सकते है। इससे ऊंचाई कम होगी, और मुद्रा में आसानी होगी।
  2. अपने शुरुआती दिनों में योगासन करने के लिए दीवार का सहारा लें या मजबूत कुर्सी रखें, इससे आपको संतुलन बनाने में आसानी होगी और गिरने के जोखिम से भी आप बचेंगे।
  3. योगासन करते समय ध्यान दें कभी भी आप अपने मांसपेशियों पर अधिक खिंचाव न दें। मांसपेशियों पर हल्के खिंचाव या खिंचाव के बिंदु तक किसी भी मुद्रा को जारी रखा जाना चाहिए।
  4. योगासन के उद्देश्य के लिए आप घर पर एक योग गेंद भी रख सकते है , जिससे आप रोजाना योगा का अभ्यास कर सकते है।
ध्यान दे:- योगासन करते समय घुटने, पैर और टखने की सुरक्षा के लिए नीचे दिए गए निम्न बातों को ध्यान में रखें।
  1. घुटने का झुकना शुरू में ‘बुरा योग’ नहीं है। सही मुद्रा वह है जिसे आप आराम से कर सकते हैं।
  2. पैरों के पंजे में ऐंठन से बचने के लिए, लोचदार योग जुर्राब(मोजा) पहनें। आप एक छोटे क्रेप पट्टी का उपयोग भी कर सकते हैं।
  3. शक्ति का निर्माण करें और सुरक्षित योग अभ्यास की नींव रखें। चरण-दर-चरण निर्देश प्राप्त करें और fityoga.in से खड़े होकर किये जाने वाले योगा के लाभों को प्राप्त करें।

यह भी पढ़ें:शशांकासन

यदि आप खड़े आसन के प्रकार(Standing Yoga poses with Names in Hindi) पर लिखे गए लेख को पसंद करते हैं, तो कृपया इसे अपने दोस्तों और परिवार में साझा करें।

Leave a Comment